छत्तीसगढसंपादकीय

लोकसभा चुनाव से पहले छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ा झटका:Congress के पूर्व नेता BJP में शामिल, समर्थकों ने भी ली सदस्यता ।

रायपुर – छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता विधान मिश्रा बीजेपी में शामिल हो गए. इसके अलावा प्रमोद मिश्रा, मनमोहन ठाकुर और करीब 200 समर्थकों ने रायपुर में बीजेपी की सदस्यता ली. इस दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम विष्णु देव साय मौजूद रहे. प्रमोद शर्मा जेसीसीजे के टिकट पर विधायक रह चुके हैं. विधानसभा चुनाव से पहले 26 अक्टूबर 2023 को उन्होंने कांग्रेस जॉइन कर ली थी. पूर्व विधायक विधान मिश्रा जोगी की कैबिनेट में उद्योग मंत्री रह चुके हैं. विधान मिश्रा भी कांग्रेस छोड़कर जोगी कांग्रेस में चले गए थे. लेकिन चुनाव से पहले उन्होंने जेसीसीजे को अलविदा कह दिया था.

बीजेपी नेताओं ने बताया कि राजधानी रायपुर स्थित कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में गुरुवार एक समारोह के दौरान मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव की उपस्थिति में कई नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली.

सीएम साय ने उनका स्वागत करते हुए कहा, ”बीजेपी की रीति नीति से प्रभावित होकर आज सैकड़ों की संख्या में शामिल हुए सभी साथियों का मैं स्वागत करता हूं. बीजेपी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है, बीजेपी में लोकतंत्र है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कार्यकर्ता अपनी योग्यता के अनुसार बड़े-बड़े पदों पर जाते है. बगिया गांव का एक छोटा सा कार्यकर्ता विष्णुदेव साय आज मुख्यमंत्री के पद पर है तो यह इसका सबसे बड़ा उदाहरण है.” उन्होंने कहा, ”मोदी जी विश्व के सबसे बड़े नेता है, सबसे अधिक लोकप्रिय है. मोदी जी ने नेतृत्व में देश में सबका विकास हो रहा है हर तरफ खुशहाली है.”

सीएम ने कहा, ”पिछले पांच वर्षों में छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस के भ्रष्टाचार से बहुत दुखी रही. जनता ने प्रचंड मतों से बीजेपी को सेवा का अवसर दिया है और आते ही हम लोगों ने दो महीना के अंदर ही मोदी  जी की गारंटी को पूरा करने का काम शुरू कर दिया है.” बीजेपी नेताओं ने बताया कि आज जिन लोगों ने पार्टी की सदस्यता ली उनमें पूर्व विधायक प्रमोद शर्मा और विधान मिश्रा हैं. शर्मा 2018 में जेसीसी (जे) विधायक के रूप में चुने गए थे, पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में शामिल हो गए थे. मिश्रा 1998 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक चुने गए और राज्य में अजीत जोगी सरकार (2000 से 2003) में राज्य मंत्री रहे. 2016 में अजीत जोगी के नेतृत्व में जेसीसी (जे) का गठन होने के बाद मिश्रा जेसीसी (जे) में शामिल हो गए थे. बाद में मिश्रा ने जोगी की पार्टी छोड़ दी

The Samachaar

रायपुर – छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता विधान मिश्रा बीजेपी में शामिल हो गए. इसके अलावा प्रमोद मिश्रा, मनमोहन ठाकुर और करीब 200 समर्थकों ने रायपुर में बीजेपी की सदस्यता ली. इस दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम विष्णु देव साय मौजूद रहे. प्रमोद शर्मा जेसीसीजे के टिकट पर विधायक रह चुके हैं. विधानसभा चुनाव से पहले 26 अक्टूबर 2023 को उन्होंने कांग्रेस जॉइन कर ली थी. पूर्व विधायक विधान मिश्रा जोगी की कैबिनेट में उद्योग मंत्री रह चुके हैं. विधान मिश्रा भी कांग्रेस छोड़कर जोगी कांग्रेस में चले गए थे. लेकिन चुनाव से पहले उन्होंने जेसीसीजे को अलविदा कह दिया था.

बीजेपी नेताओं ने बताया कि राजधानी रायपुर स्थित कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में गुरुवार एक समारोह के दौरान मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव की उपस्थिति में कई नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली.

सीएम साय ने उनका स्वागत करते हुए कहा, ”बीजेपी की रीति नीति से प्रभावित होकर आज सैकड़ों की संख्या में शामिल हुए सभी साथियों का मैं स्वागत करता हूं. बीजेपी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है, बीजेपी में लोकतंत्र है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कार्यकर्ता अपनी योग्यता के अनुसार बड़े-बड़े पदों पर जाते है. बगिया गांव का एक छोटा सा कार्यकर्ता विष्णुदेव साय आज मुख्यमंत्री के पद पर है तो यह इसका सबसे बड़ा उदाहरण है.” उन्होंने कहा, ”मोदी जी विश्व के सबसे बड़े नेता है, सबसे अधिक लोकप्रिय है. मोदी जी ने नेतृत्व में देश में सबका विकास हो रहा है हर तरफ खुशहाली है.”

सीएम ने कहा, ”पिछले पांच वर्षों में छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस के भ्रष्टाचार से बहुत दुखी रही. जनता ने प्रचंड मतों से बीजेपी को सेवा का अवसर दिया है और आते ही हम लोगों ने दो महीना के अंदर ही मोदी  जी की गारंटी को पूरा करने का काम शुरू कर दिया है.” बीजेपी नेताओं ने बताया कि आज जिन लोगों ने पार्टी की सदस्यता ली उनमें पूर्व विधायक प्रमोद शर्मा और विधान मिश्रा हैं. शर्मा 2018 में जेसीसी (जे) विधायक के रूप में चुने गए थे, पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में शामिल हो गए थे. मिश्रा 1998 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक चुने गए और राज्य में अजीत जोगी सरकार (2000 से 2003) में राज्य मंत्री रहे. 2016 में अजीत जोगी के नेतृत्व में जेसीसी (जे) का गठन होने के बाद मिश्रा जेसीसी (जे) में शामिल हो गए थे. बाद में मिश्रा ने जोगी की पार्टी छोड़ दी

The Samachaar

रायपुर – छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता विधान मिश्रा बीजेपी में शामिल हो गए. इसके अलावा प्रमोद मिश्रा, मनमोहन ठाकुर और करीब 200 समर्थकों ने रायपुर में बीजेपी की सदस्यता ली. इस दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम विष्णु देव साय मौजूद रहे. प्रमोद शर्मा जेसीसीजे के टिकट पर विधायक रह चुके हैं. विधानसभा चुनाव से पहले 26 अक्टूबर 2023 को उन्होंने कांग्रेस जॉइन कर ली थी. पूर्व विधायक विधान मिश्रा जोगी की कैबिनेट में उद्योग मंत्री रह चुके हैं. विधान मिश्रा भी कांग्रेस छोड़कर जोगी कांग्रेस में चले गए थे. लेकिन चुनाव से पहले उन्होंने जेसीसीजे को अलविदा कह दिया था.

बीजेपी नेताओं ने बताया कि राजधानी रायपुर स्थित कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में गुरुवार एक समारोह के दौरान मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव की उपस्थिति में कई नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली.

सीएम साय ने उनका स्वागत करते हुए कहा, ”बीजेपी की रीति नीति से प्रभावित होकर आज सैकड़ों की संख्या में शामिल हुए सभी साथियों का मैं स्वागत करता हूं. बीजेपी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है, बीजेपी में लोकतंत्र है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कार्यकर्ता अपनी योग्यता के अनुसार बड़े-बड़े पदों पर जाते है. बगिया गांव का एक छोटा सा कार्यकर्ता विष्णुदेव साय आज मुख्यमंत्री के पद पर है तो यह इसका सबसे बड़ा उदाहरण है.” उन्होंने कहा, ”मोदी जी विश्व के सबसे बड़े नेता है, सबसे अधिक लोकप्रिय है. मोदी जी ने नेतृत्व में देश में सबका विकास हो रहा है हर तरफ खुशहाली है.”

सीएम ने कहा, ”पिछले पांच वर्षों में छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस के भ्रष्टाचार से बहुत दुखी रही. जनता ने प्रचंड मतों से बीजेपी को सेवा का अवसर दिया है और आते ही हम लोगों ने दो महीना के अंदर ही मोदी  जी की गारंटी को पूरा करने का काम शुरू कर दिया है.” बीजेपी नेताओं ने बताया कि आज जिन लोगों ने पार्टी की सदस्यता ली उनमें पूर्व विधायक प्रमोद शर्मा और विधान मिश्रा हैं. शर्मा 2018 में जेसीसी (जे) विधायक के रूप में चुने गए थे, पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में शामिल हो गए थे. मिश्रा 1998 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक चुने गए और राज्य में अजीत जोगी सरकार (2000 से 2003) में राज्य मंत्री रहे. 2016 में अजीत जोगी के नेतृत्व में जेसीसी (जे) का गठन होने के बाद मिश्रा जेसीसी (जे) में शामिल हो गए थे. बाद में मिश्रा ने जोगी की पार्टी छोड़ दी

The Samachaar

रायपुर – छत्तीसगढ़ में लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता विधान मिश्रा बीजेपी में शामिल हो गए. इसके अलावा प्रमोद मिश्रा, मनमोहन ठाकुर और करीब 200 समर्थकों ने रायपुर में बीजेपी की सदस्यता ली. इस दौरान छत्तीसगढ़ के सीएम विष्णु देव साय मौजूद रहे. प्रमोद शर्मा जेसीसीजे के टिकट पर विधायक रह चुके हैं. विधानसभा चुनाव से पहले 26 अक्टूबर 2023 को उन्होंने कांग्रेस जॉइन कर ली थी. पूर्व विधायक विधान मिश्रा जोगी की कैबिनेट में उद्योग मंत्री रह चुके हैं. विधान मिश्रा भी कांग्रेस छोड़कर जोगी कांग्रेस में चले गए थे. लेकिन चुनाव से पहले उन्होंने जेसीसीजे को अलविदा कह दिया था.

बीजेपी नेताओं ने बताया कि राजधानी रायपुर स्थित कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में गुरुवार एक समारोह के दौरान मुख्यमंत्री विष्णु देव साय और प्रदेश अध्यक्ष किरण सिंह देव की उपस्थिति में कई नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली.

सीएम साय ने उनका स्वागत करते हुए कहा, ”बीजेपी की रीति नीति से प्रभावित होकर आज सैकड़ों की संख्या में शामिल हुए सभी साथियों का मैं स्वागत करता हूं. बीजेपी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है, बीजेपी में लोकतंत्र है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कार्यकर्ता अपनी योग्यता के अनुसार बड़े-बड़े पदों पर जाते है. बगिया गांव का एक छोटा सा कार्यकर्ता विष्णुदेव साय आज मुख्यमंत्री के पद पर है तो यह इसका सबसे बड़ा उदाहरण है.” उन्होंने कहा, ”मोदी जी विश्व के सबसे बड़े नेता है, सबसे अधिक लोकप्रिय है. मोदी जी ने नेतृत्व में देश में सबका विकास हो रहा है हर तरफ खुशहाली है.”

सीएम ने कहा, ”पिछले पांच वर्षों में छत्तीसगढ़ की जनता कांग्रेस के भ्रष्टाचार से बहुत दुखी रही. जनता ने प्रचंड मतों से बीजेपी को सेवा का अवसर दिया है और आते ही हम लोगों ने दो महीना के अंदर ही मोदी  जी की गारंटी को पूरा करने का काम शुरू कर दिया है.” बीजेपी नेताओं ने बताया कि आज जिन लोगों ने पार्टी की सदस्यता ली उनमें पूर्व विधायक प्रमोद शर्मा और विधान मिश्रा हैं. शर्मा 2018 में जेसीसी (जे) विधायक के रूप में चुने गए थे, पिछले वर्ष विधानसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेस में शामिल हो गए थे. मिश्रा 1998 में कांग्रेस के टिकट पर विधायक चुने गए और राज्य में अजीत जोगी सरकार (2000 से 2003) में राज्य मंत्री रहे. 2016 में अजीत जोगी के नेतृत्व में जेसीसी (जे) का गठन होने के बाद मिश्रा जेसीसी (जे) में शामिल हो गए थे. बाद में मिश्रा ने जोगी की पार्टी छोड़ दी

The Samachaar

Source link

anantcgtimes

लोकेश्वर सिंह ठाकुर (प्रधान संपादक) मोबाइल- 9893291742 ईमेल- anantcgtimes@gmail.com वार्ड नंबर-5, राजपूत मोहल्ला, ननकटठी, जिला-दुर्ग

Related Articles

Back to top button