छत्तीसगढसंपादकीय

दुर्ग।आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य अभियान चलाकर पूर्ण करें ।कलेक्टर सुश्री चौधरी।

*आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य अभियान चलाकर पूर्ण करें-कलेक्टर सुश्री चौधरी*

*- आंगनबाड़ी केन्द्रों में भर्ती प्रक्रिया के दौरान दावा आपत्ति के समय नये डाकुमेंट स्वीकार नहीं होंगे*

*- दस साल से ऊपर वाले आधार कार्ड को अपडेट करायें*

*- नगरीय निकायों का वार्ड परिसीमन निर्धारित कार्यक्रम अनुसार सुनिश्चित करायें*

*- आर.टी.ई. फर्जीवाड़ा पर प्रथम प्राथमिकी दर्ज कराने डी.ई.ओ. को निर्देश*

*- जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में हो शाला प्रवेशोत्सव*

*- समितियों में खरीफ धान एवं खाद की पर्याप्त भंडारण के साथ वितरण भी समय पर हो*

*- कलेक्टर ने की समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा*

दुर्ग, 18 जून 2024/ जिले में आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायतवार तथा नगरीय क्षेत्रों में वार्डवार अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान आयुष्मान कार्ड बनाने सेे छुटे सभी लोगांे के कार्ड बनाये जाएंगे। कलेक्टर सुश्री ऋचा प्रकाश चौधरी ने आज अधिकारियों की समय-सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक में जिले में आयुष्मान कार्ड की समीक्षा करते हुए कहा कि लोगों को चिकित्सा सुविधा मुहैय्या कराने प्रत्येक परिवार के सभी सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है। उन्हांेने जनपद सीईओ और नगरीय निकायों के अधिकारियों को अभियान चलाकर लक्ष्य पूर्ण करने आवश्यक पहल करने के निर्देश दिए। साथ ही इस हेतु कार्ययोजना तैयार करने चिप्स के ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर को निर्देशित किया। इसी प्रकार शासन की योजनाओं से लाभान्वित होने दस साल पूर्व बने आधार कार्डों का अपडेशन का कार्य किया जाना है। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्रों में भर्ती प्रक्रिया की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं की भर्ती समय पर सुनिश्चित किया जाए। समिति द्वारा निर्णय लेने में विलंब होने पर अधिकारी सीधे फाइल कलेक्टर को प्रस्तुत कर सकते हैं। कलेक्टर ने कहा कि भर्ती प्रक्रिया के दौरान आमंत्रित दावा आपत्ति के समय किसी भी प्रकार की नया डाकुमेंट स्वीकार नहीं किया जाएगा। अधिकारी इस पर विशेष ध्यान देवें। कलेक्टर सुश्री चौधरी ने अवगत कराया कि शासन के निर्देशानुसार नगरीय निकाय चुनाव के पूर्व वार्डों का परिसीमन होना है। अतएव अधिकारी निर्धारित कार्यक्रम अनुसार शासन के दिशा-निर्देशों के अनुरूप वार्ड परिसीमन का कार्य पूर्ण कराएंगे। उन्होंने शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत सत्र 2024-25 हेतु एडमिशन में हुई कथित गड़बड़ी की जानकारी लेते हुए फर्जीवाड़ा करने वालों के विरूद्ध प्रथम प्राथमिकी दर्ज कराने डी.ई.ओ. को निर्देशित किया। साथ ही स्थानीय प्रतिनिधियों की मौजूदगी में शाला प्रवेशोत्सव आयोजित कर विद्यार्थियों को किताबे, गणवेश एवं सायकले वितरित करने कहा। डी.ई.ओ. ने अवगत कराया कि आर.टी.ई. के तहत एडमिशन में हुई गड़बड़ी की जांच उपरांत संबंधित पालकों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने हेतु पत्र एवं दस्तावेज पुलिस अधीक्षक को प्रेषित कर दी गई है। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जिले के समस्त शालाओं में 26 एवं 27 जून को शाला प्रवेशोत्सव मनाया जाएगा। इसी प्रकार 28 जून को संकुल स्तर पर और 01, 02, 03 जुलाई को विकासखण्ड स्तर पर तथा 05 जुलाई को जिला स्तरीय शाला प्रवेशोत्सव आयोजित किया जाएगा। कलेक्टर सुश्री चौधरी ने जिले में खरीफ धान बीज एवं खाद उपलब्धता की समीक्षा करते हुए कहा कि जिले के सहकारी समितियों में खरीफ धान की बीज एवं खाद की पर्याप्त भंडारण के साथ किसानों को समय पर वितरण सुनिश्चित किया जाए। सी.सी.बी. के नोडल अधिकारी ने अवगत कराया कि किसानों की सुविधा हेतु यूरिया, सुपर फास्फेट, डीएपी, ईफको, पोटाश, उर्वरकों एवं बीज की पर्याप्त उपलब्धता करा दी गई है। किसान अग्रिम उठाव कर रहे हैं। कलेक्टर सुश्री चौधरी ने सारथी एप, पीजी पोर्टल और पीजीएन प्रकरणों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को पीजी पोर्टल के एक साल से ऊपर के प्रकरण आगामी टीएल के पहले निराकृत करने वहीं पीजीएन के प्रकरण 03 माह से अधिक लंबित नहीं रखने के निर्देश दिए। उन्होंने युवा मितान क्लब से संबंधित स्वीकृत राशि का यूसी/सीसी संबंधित अधिकारियों को शीघ्र प्रस्तुत करने कहा। उन्होंने कैच द रैन अंतर्गत जल संरक्षण को बढ़ावा देने हेतु नगरीय निकायों की कार्य गतिविधियों की जानकारी ली। वहीं शासकीय भवनों में रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम, नालों की सफाई व सोखपिट निर्माण पर जोर देने कहा। वृक्षारोपण के लिए नगरीय निकायांें एवं ग्रामीण क्षेत्रों में जगह चिन्हांकित करने व सड़क किनारे वृहद पैमाने पर वृक्षारोपण करने के निर्देश दिए। उन्होंने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को जिले में नदियों के तटीय भूभाग चिन्हित कर बड़े पैमाने पर पौधरोपण कराने के निर्देश दिए। इसी प्रकार स्कूल परिसर में जगह उपलब्धता के आधार पर फलदार पौधे रोपण कराने डी.ई.ओ. को निर्देशित किया। कलेक्टर ने नगरीय निकायों की भांति ग्रामीण क्षेत्रों में भी सूखा कचरा और गीला कचरा के संग्रहण एवं निष्पादन हेतु आवश्यक पहल करने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। बैठक में एडीएम श्री अरविन्द एक्का, नगर निगम भिलाई के आयुक्त श्री देवेश ध्रुव, जिला पंचायत के सीईओ श्री अश्वनी देवांगन, अपर कलेक्टर श्री बी.के. दुबे, नगर निगम भिलाई-चरौदा के आयुक्त श्री दशरथ राजपूत, नगर निगम रिसाली के आयुक्त श्रीमती मोनिका वर्मा, संयुक्त कलेक्टर श्री हरवंश सिंह मिरी सहित सभी एसडीएम, सभी जनपद सीईओ एवं समस्त विभाग के जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।

anantcgtimes

लोकेश्वर सिंह ठाकुर (प्रधान संपादक) मोबाइल- 9893291742 ईमेल- anantcgtimes@gmail.com वार्ड नंबर-5, राजपूत मोहल्ला, ननकटठी, जिला-दुर्ग

Related Articles

Back to top button