छत्तीसगढसंपादकीय

दुर्ग के मानस के भवन में हुआ राजपूत समाज का आदर्श सामूहिक विवाह।

दुर्ग के मानस भवन में हुआ राजपूत समाज का आदर्श सामूहिक विवाह

दुर्ग – आज आधुनिकता के दौर में दिखावा कहे या मजबूरी बेतहाशा महंगाई में खर्चीली शादी से बचने राजपूत समाज 1282 का आदर्श सामूहिक विवाह अन्य समाज के लिए अनुकरणीय है। इस विवाह को मूर्त रूप देते हुए । मानस भवन में राजपूत समाज के 5 जोड़ों ने एक साथ 7 फेरे लिए। सामाजिक रीति रिवाज के साथ ये जोड़े परिणय बंधन में बंधकर एक दूजे के हो गए जिसमें श्वेता परिहार पिता रोहित सिंह परिहार संग विनय चंदेल पिता शेषनारायण सिंह। रेणुका राजपूत पिता यशवंत सिंह राजपूत संग युगल किशोर सिंह पिता राजेंद्र सिंह। लोकेश्वरी पिता सुरेंद्र सिंह संग आनंद सिंह गहलौत पिता दीपक सिंह गहलौत। विनीता पिता श्याम सिंह सिंह संग गौकरण सिंह सुपुत्र तारण सिंह। भुवनेश्वरी पिता श्याम सिंह दुर्ग संग दिलेश्वर सिंह पिता राधे सिंह धमधा।राजपूत क्षत्रिय महासभा छत्तीसगढ़ पंजीयन क्रमांक 1282 रहटादह के दिशा निर्देशन तथा उपसमिति दुर्ग के संयोजन में यह आदर्श सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। विवाह के साक्षी बनने तथा नवयुगल दंपतियों को आशीर्वाद देने महासभा के अध्यक्ष बजरंग सिंह बैस, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश कुमार सिंह, कोषाध्यक्ष नीरज सिंह क्षत्री, महासचिव विष्णु सिंह बघेल सहसचिव कमलेश सिंह राजपूत, संगठन सचिव ज्ञानेश्वर सिंह, प्रचार सचिव घनश्याम सिंह चौहान के अलावा उप समिति दुर्ग के सचिव दिनेश सिंह, अन्य पदाधिकारी राजेश सिंह, शेखर सिंह, नरेंद्र सिंह, दीपक सिंह, वीरेंद्र भुवाल, ममता सिह विशेष रूप से मौजूद थे। आयोजन में उपसमिति दुर्ग उपसमिति के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राजपूत सहित कार्यकारिणी तथा सक्रिय सदस्यों की विशेष भूमिका रही। महासभा के अध्यक्ष बजरंग सिंह बैस ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि आदर्श सामूहिक विवाहफिजूल खर्ची को रोकने, सामाजिक सूत्र में बांधने का – प्रयास है। प्रभारी कमलेश सिंह ने कहा ऐसे विवाह से – आर्थिक बचत के साथ सामूहिक भागीदारी बनती है। – वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश सिंह ने माता, पिता के अच्छे सोच – की तारीफ की। कोषाध्यक्ष नीरज सिंह ने सामाजिक समरसता की बात कही। महासचिव विष्णु सिंह ने बताया – कि कमजोर परिस्थिति के सामाजिक लोगो के आवेदन – करने में उनका निःशुल्क विवाह किया जाता है। साहित्य परिषद के अध्यक्ष सत्येन्द्र राजपूत ने बताया कि समाज में – 1998 से सामूहिक विवाह हो रहा है। अब तक 200 से – अधिक जोड़ों का विवाह किया जा चुका है। इस अवसर पर युवा मंडल अध्यक्ष प्रशांत सिंह, युवा सचिव विकास सिंह, महिला अध्यक्ष वंदना सिंह, महासभा के पूर्व अध्यक्ष होरी सिंह पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष अजय सिंह, पूर्व महासचिव अशोक सिंह, पूर्व प्रचार सचिव अश्वनी सिंह, पूर्व संगठन सचिव ठा. आनंद गौतम, भगवान सिंह, डोंगरगढ़ अध्यक्ष आरन सिंह, रायपुर अध्यक्ष पंकज कुमार भुवाल, भिलाई अध्यक्ष रवि सिंह, धमधा सचिव मनीष सिंह, परपोड़ी अध्यक्ष, उपसमिति दुर्ग उत्तर से कौशल सिंह,दशरथ सिंह, रामकुमार सिंह, मोंटू राजपूत मीडिया सेल से आदर्श सिंह, रोहिताश सिंह भुवाल, दीपक सिंह के अलावा बड़ी संख्या में समाज की महिला व पुरुष उपस्थित थे।

anantcgtimes

लोकेश्वर सिंह ठाकुर (प्रधान संपादक) मोबाइल- 9893291742 ईमेल- anantcgtimes@gmail.com वार्ड नंबर-5, राजपूत मोहल्ला, ननकटठी, जिला-दुर्ग

Related Articles

Back to top button